निर्भय वाधवा सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. फोटो साभार- @nirbhay.wadhwa/Instagram

निर्भय वाधवा सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. फोटो साभार- @nirbhay.wadhwa/Instagram

निर्भय वाधवा सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. फोटो साभार- @nirbhay.wadhwa/Instagram

टीवी के ‘हनुमान’ निर्भय वाधवा (Nirbhay Wadhwa) पिछले करीब 1.5 साल से बेरोजगार (Nirbhay wadhwa is unemployed) हैं. लॉकडाउन के दौरान कोई काम नहीं होने के कारण उन्हें आर्थिक रूप से मुश्किल स्थिति में डाल दिया और गुजारे के लिए एक्टर को अपनी पसंदीदा सुपरबाइक बेचनी पड़ी.

मुंबई. कोरोना महामारी लोगों को कई तरह के दुख देकर गया. लॉकडाउन (lockdown) के कारण लोगों के अपने बिछड़े, नौकरी और रोजगार चला गया. लॉकडाउन की वजह से टीवी इंडस्ट्री सबसे ज्यादा प्रभावित हुई. टीवी सीरियल्स की शूटिंग पर ब्रेक लग गया और कई कलाकार सड़क पर आ गये. टीवी के ‘हनुमान’ निर्भय वाधवा (Nirbhay Wadhwa) पिछले करीब 1.5 साल से बेरोजगार (Nirbhay wadhwa is unemployed) हैं. लॉकडाउन के दौरान कोई काम नहीं होने के कारण उन्हें आर्थिक रूप से मुश्किल स्थिति में डाल दिया और गुजारे के लिए एक्टर को अपनी पसंदीदा सुपरबाइक बेचनी पड़ी.

टीवी के ‘हनुमान’ निर्भय वाधवा (Nirbhay Wadhwa) ने अपने इस कठिन दौर के बारे में खुलकर बात की. उन्होंने ईटाइम्स से बात में कहा, लगभग डेढ़ साल तक घर पर बैठे रहने से चीजें बदतर हो गईं और इस तालाबंदी के कारण मेरी सारी बचत खत्म हो गई. कुछ काम नहीं था. लाइव शो भी नहीं हो रहे थे. कुछ पेमेंट बाकी था, वो भी नहीं मिला.

उन्होंने इस बातचीत में बताया कि मैं एडवेंचर के शौकीन हूं. इसलिए उनके पास एक सुपर बाइक है. मजबूरी में उन्हें उसे बेचना पड़ा. उन्होंने बताया कि बाइक जयपुर में मेरे गृहनगर में थी, खर्च चलाने के लिए वह उन्होंने बाइक को बेचने का बड़ा फैसला लिया. उन्होंने कहा कि मेरे लिए बाइक बेचना आसान नहीं था, क्योंकि यह बहुत महंगी बाइक थी.

निर्भय ने बताया कि उन्होंने अपनी बाइक 22 लाख रुपये में खरीदी थी. इसलिए खरीदार ढूंढना मुश्किल हो गया. आखिरकार, कंपनी को ही साढ़े नौ लाख में बाइक बेच दी. इस बाइक के साथ निर्भय की कई यादें जुड़ी हुई थीं. आपको बता दें कि निर्भय फिलहाल विध्नहर्ता गणेश में हनुमान जी के किरदार में दिख रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हर कोई मुश्किल दौर से गुजर रहा है. लेकिन मैं उम्मीद नहीं खोता और कर्म में विश्वास करता हूं. जल्द ही जनजीवन सामान्य हो जाएगा. मैं अपना काम कर रहा हूं और जल्द ही मैं एक और बाइक खरीदने की स्थिति में रहूंगा. उन्होंने कहा कि मैं सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद कर रहा हूं.





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here