टेस्ला जुलाई-अगस्त में शुरू करेगी मॉडल 3 की टेस्टिंग.

टेस्ला जुलाई-अगस्त में शुरू करेगी मॉडल 3 की टेस्टिंग.

टेस्ला जुलाई-अगस्त में शुरू करेगी मॉडल 3 की टेस्टिंग.

Tesla की शुरुआत बेशक बहुत धीमी रही है. लेकिन कंपनी ने अब अपनी रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया है. आने वाले दिनों में टेस्ला दिल्ली, मुंबई, बैंगलोरु सहित कई बड़े शहरों में अपने शोरूम खोलेगी. वहीं टियर 2 के शहरों में कंपनी फ्रेंचाइजी खोलने पर विचार कर

नई दिल्ली. Tesla ने इंडिया में अपने लीडरशिप तैयार करना शुरू कर दी है. कंपनी की योजना है कि, इस साल के आखिरी महीनों में कंपनी अपनी पहली मॉडल 3 इलेक्ट्रिक कार को भारत में लॉन्च कर दे.  सीएनबीसी टीवी 18 की रिपोर्ट के अनुसार इसके लिए कंपनी ने जुलाई-अगस्त में मॉडल 3 इलेक्ट्रिक कार की टेस्टिंग के लिए समय चुना है. वहीं बीते शुक्रवार को टेस्ला की मॉडल 3 कार की तीन यूनिट भारत लाई गई है. जिन्हें ऑटोमोटिव रिसर्च ऑफ इंडिया (ARAI) की मंजूरी के लिए लाया गया है. क्योंकि जब तक ARAI इलेक्ट्रिक कार को मंजूरी नहीं देती है उनकी सेल नहीं की जा सकती.

इन शहरों में Tesla खोलेगी शोरूम – टेस्ला की शुरुआत बेशक बहुत धीमी रही है. लेकिन कंपनी ने अब अपनी रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया है. आने वाले दिनों में टेस्ला दिल्ली, मुंबई, बैंगलोरु सहित कई बड़े शहरों में अपने शोरूम खोलेगी. वहीं टियर 2 के शहरों में कंपनी फ्रेंचाइजी खोलने पर विचार कर सकती है.

यह भी पढ़ें: Tata Nexon, Mahindra, Hyundai की बेस्ट इलेक्ट्रिक कार, पर्यावरण के लिए हैं बेहतर, जानिए कीमत और फीचर्स

इन लोगों को Tesla ने किया हायर – टेस्ला ने मॉडल 3 की लॉन्चिंग के लिए 6 इंडियन को हायर किया है. जिसमें टेस्ला ने समीर जैन आफ्टर सेल्स को लीड करेंगे. इससे पहले समीर 7 साल तक इंडिया में पोर्श कंपनी के लिए काम कर चुके है. वहीं एथर एनर्जी से निशांत का लाया गया है. जो चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करेंगे. वहीं न्यूमो से मनुज खुराना को लाया गया है जो कंपनी की स्ट्रेटजी बनाएंगे. वहीं वॉलमार्ट से चित्रा थॉमस और वैभव तनेजा को लाया गया है.यह भी पढ़ें: अगले साल काफी बड़े मॉडल लॉन्च करने की तैयारी में Royal Enfield, जानिए क्या अलग होगा न्यू जनरेशन बाइक्स में

यहां बनेगा टेस्ला का प्लांट – टेस्ला ने कर्नाटक में अपना ऑफिस रजिस्टर्ड कराया है. कंपनी को प्लांट लगाने के लिए कई राज्यों से ऑफर मिले है. लेकिन कंपनी ने अभी इसके बारे में कोई फैसला नहीं किया है, वहीं माना जा रहा है कि, टेस्ला कर्नाटक में ही अपना प्लांट स्थापित कर सकती है. क्योंकि कंपनी अपनी मॉडल 3 कार को CBU यूनिट के तौर पर प्रोडक्शन करना चाहती है.

 





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here