टाटा ग्रुप ई-कॉमर्स सेगमेंट में दमदार तरीके से उतरने के लिए सुपरऐप लाने की योजना बना रहा है। -सिम्बॉलिक तस्वीर - Dainik Bhaskar

  • Hindi News
  • Business
  • Tata Group, Tata Digital To Acquire Majority Stake In Online Pharmacy Startup 1mg

नई दिल्ली25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
टाटा ग्रुप ई-कॉमर्स सेगमेंट में दमदार तरीके से उतरने के लिए सुपरऐप लाने की योजना बना रहा है। -सिम्बॉलिक तस्वीर - Dainik Bhaskar

टाटा ग्रुप ई-कॉमर्स सेगमेंट में दमदार तरीके से उतरने के लिए सुपरऐप लाने की योजना बना रहा है। -सिम्बॉलिक तस्वीर

  • 1mg के पास देश में 3 अत्याधुनिक डायग्नोस्टिक लैब
  • 20 हजार पिनकोड को कवर करने वाली सप्लाई चेन

टाटा ग्रुप की सब्सिडियरी टाटा डिजिटल ने ऑनलाइन फार्मेसी सेगमेंट में उतरने की तैयारी कर ली है। टाटा डिजिटल ने कहा है कि वह ऑनलाइन फार्मेसी कंपनी 1mg में बड़ी हिस्सेदारी खरीदने जा रही है। बिग बास्केट के बाद टाटा डिजिटल का डिजिटल इकोनॉमी में यह दूसरा महत्वपूर्ण स्टार्टअप अधिग्रहण है।

इसी सप्ताह क्योरफिट में निवेश की घोषणा की थी

टाटा डिजिटल ने इस सप्ताह की शुरुआत में फिटनेस स्टार्टअप क्योरफिट हेल्थकेयर में 75 मिलियन डॉलर करीब 550 करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की थी। इस डील के तहत क्योरफिट के को-फाउंडर मुकेश बंसल टाटा डिजिटल से प्रेसीडेंट के तौर पर जुड़ेंगे। टाटा ग्रुप ई-कॉमर्स सेगमेंट में दमदार तरीके से उतरने के लिए सुपरऐप लाने की योजना बना रहा है। हाल ही में किए गए अधिग्रहण और निवेश से टाटा ग्रुप के सुपरऐप को मजबूती मिलेगी।

रिलायंस ने किया है नेटमेड्स का अधिग्रहण

1mg के अधिग्रहण को टाटा ग्रुप के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इसका कारण यह है कि हाल ही में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ऑनलाइन फार्मेसी सेगमेंट में कदम रखते हुए नेटमेड्स का अधिग्रहण किया है। जबकि फार्मईजी का मेडलाइफ में विलय हो चुका है। ई-कॉमर्स सेगमेंट में टाटा ग्रुप का फ्लिपकार्ट, अमेजन और रिलायंस रिटेल जैसी दिग्गज कंपनियों से मुकाबला है।

ग्राहकों को बेहतर अनुभव देने में मदद मिलेगी

टाटा डिजिटल के सीईओ प्रतीक पाल ने एक बयान में कहा है कि 1mg में निवेश से टाटा ग्रुप को ग्राहकों को बेहतर सेवाएं देने में मदद मिलेगी। साथ ही कंपनी अच्छी क्वालिटी की हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स और सेवाएं दे सकेगी। टाटा डिजिटल का कहना है कि 1mg के पास 3 अत्याधुनिक डायग्नोस्टिक लैब हैं। 20 हजार से ज्यादा पिनकोड को कवर करने वाली सप्लाई चेन है। इस अधिग्रहण के जरिए टाटा डिजिटल दवाओं और अन्य हेल्थकेयर उत्पादों के B2B वितरण कारोबार में भी प्रवेश कर सकेगी।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here