शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच, एनसीपी प्रमुख के मुंबई स्थित सिल्वर ओक निवास पर मुलाकात हुई है। - Dainik Bhaskar

मुंबई2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच, एनसीपी प्रमुख के मुंबई स्थित सिल्वर ओक निवास पर मुलाकात हुई है। - Dainik Bhaskar

शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच, एनसीपी प्रमुख के मुंबई स्थित सिल्वर ओक निवास पर मुलाकात हुई है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद चुनावी रणनीति के काम से ब्रेक ले चुके प्रशांत किशोर और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार के बीच शनिवार को तकरीबन 4 घंटे की लंबी मुलाकात हुई। शरद पवार के मुंबई स्थित सिल्वर ओके बंगले में हुई इस मीटिंग के बाद महाराष्ट्र में फिर से कयासों का दौर शुरू हो चुका है।

चर्चा यह है कि प्रशांत किशोर, NCP के साथ बतौर रणनीतिकार अपनी दूसरी पारी शुरू कर सकते हैं। हालांकि, राजनीतिक गलियारे में एक चर्चा पवार के UPA अध्यक्ष के साथ विपक्ष का चेहरा बनाने की भी है। बंगाल चुनाव के बाद पवार ने ममता को फोन कर बधाई दी थी।

2024 में पीएम नरेंद्र मोदी के सामने विपक्ष का चेहरा कौन होगा इसे लेकर विपक्षी दलों के बीच चर्चा हो रही है। इस बीच प्रशांत किशोर और पवार की मुलाकात अहम मानी जा रही है। इस मुलाकात को ममता की रणनीति से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

बता दें कि महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार चला रही शिवसेना के नेता संजय राउत ने कुछ दिन पहले ही कहा था कि राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी दलों के गठबंधन के गठन के लिए बातचीत शुरू होगी।

अजित पवार ने खारिज किया दावा
प्रशांत किशोर और शरद पवार के बीच हुइ मुलाकात को लेकर डिप्टी CM अजित पवार ने पुणे में कहा, ‘प्रशांत किशोर ने कहा है कि वे किसी चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगे। वे पवार साहब से अपने कुछ अनुभव साझा करने आये होंगे या फिर उनका कुछ और काम होगा। उन्होंने अब राजनीति का काम छोड़ दिया है। इसलिए जो भी चर्चा हो रही है वह निराधार है।’

अजित पवार ने आगे कहा, ‘शरद पवार से विभिन्न क्षेत्रों के लोग मिलने आते हैं।’ क्या यह मुलाकात 2024 के चुनावों को लेकर है, इस पर पवार ने कहा, ‘प्रशांत किशोर ने खुद कहा कि बंगाल का चुनाव उनका आखिरी है।’

अजित पवार पुणे में पुलिस हेडक्वार्टर का निरीक्षण करने पहुंचे थे।

अजित पवार पुणे में पुलिस हेडक्वार्टर का निरीक्षण करने पहुंचे थे।

बतौर रणनीतिकार प्रशांत इनके साथ जुड़ चुके हैं
प्रशांत किशोर अब तक नरेंद्र मोदी, जगन मोहन रेड्डी, कैप्टन अमरिंदर सिंह, ममता बनर्जी और उद्धव ठाकरे की पार्टी के लिए बतौर चुनावी रणनीतिकार काम कर चुके हैं।

संजय राउत के बायन से बढ़ी सियासी हलचल
शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत के शुक्रवार बयान ने राज्य के माहौल को गर्म कर दिया। राउत ने कहा कि मोदी देश के टॉप लीडर हैं। उनके इस बयान पर अटकलों का बाजार और गर्म हो गया।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here