पहलाज निहलानी फिल्म प्रोड्यूसर और सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं। - Dainik Bhaskar

27 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पहलाज निहलानी फिल्म प्रोड्यूसर और सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं। - Dainik Bhaskar

पहलाज निहलानी फिल्म प्रोड्यूसर और सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (CBFC) यानी सेंसर बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी की मानें तो वे 28 दिन तक मुंबई के नानावटी हॉस्पिटल में भर्ती रहे। रिपोर्ट्स का मुताबिक, वे शनिवार को ही वहां से डिस्चार्ज हुए हैं। एक बातचीत में निहलानी ने बताया कि अस्पताल में इलाज के दौरान सिर्फ शत्रुघ्न सिन्हा उनसे मिलने और हालचाल जानने पहुंचे थे। बकौल निहलानी, “शत्रु हाल ही में मुझसे मिलने आए थे। हमने ज्यादातर इसे प्राइवेट ही रखा था।”

जब रात के 3 बजे हुईं खून की उल्टियां
अस्पताल में भर्ती होने की वजह उजागर करते हुए निहलानी ने एक अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट से कहा, “एक रात अचानक से 3 बजे मुझे बेचैनी होने लगी और खून की उल्टियां भी हुईं। मुझे अस्पताल में भर्ती होने की सलाह दी गई। यह क्रोनिक फूड पॉइजनिंग का मामला था। लेकिन इमरजेंसी थी। शुरुआत में मुझे 5-6 दिनों तक आईसीयू में भर्ती रखा गया।”

‘सोचा था 2-3 दिन में घर चला जाऊंगा’
निहलानी ने आगे कहा, “जब मैं आईसीयू से बाहर आया तो सोचा कि 2-3 दिन में मैं घर चला जाऊंगा। लेकिन लंबे समय तक मेरा टेम्प्रेचर कम नहीं हुआ। मुझे बुखार आ रहा था और शाम के वक्त पेट में भी बहुत दर्द हो रहा था। डायग्नोसिस बढ़ता गया और यह चिंता का विषय बन गया।”

2015-17 तक CBFC के चीफ रहे
पहलाज निहलानी 2015 से 2017 तक CBFC के चीफ रहे हैं। कई लोगों ने उन पर फिल्मों से हिंसक और इंटिमेट सीन बेवजह छोटे करने के आरोप लगाए थे और इसके चलते उनका कार्यकाल विवादित रहा था। जेम्स बॉन्ड सीरीज की फिल्म ‘स्पेक्टर’ से किसिंग सीन को छोटा कराने पर सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हुई थी।

निहलानी ने ‘शाहिद कपूर’ स्टार ‘उड़ता पंजाब’ में कथिततौर पर 69 कट लगाने के लिए कहा था, जो काफी चर्चा में रहा था। बाद में बॉम्बे हाईकोर्ट ने CBFC के फैसले को गलत बताया और फिल्म सिर्फ एक कट के साथ रिलीज हुई थी। 2017 में सरकार ने उन्हें हटाकर गीतकार प्रसून जोशी को CBFC का नया चेयरमैन बनाया था।

निहलानी ने बनाईं ‘अंदाज’ जैसी फिल्में
पहलाज निहलानी फिल्म प्रोड्यूसर हैं। उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा- रीना रॉय स्टारर ‘हथकड़ी’ (1982), गोविंदा- दिव्या भारती स्टारर ‘शोला और शबनम’ (1992), गोविंदा-चंकी पांडे स्टारर ‘आंखें’ (1993), अनिल कपूर- करिश्मा कपूर स्टारर ‘अंदाज’ (1994), अक्षय कुमार-करीना कपूर स्टारर ‘तलाश’ (2003), राय लक्ष्मी स्टारर ‘जूली 2’ (2017) और गोविंदा स्टारर ‘रंगीला राजा’ (2019) जैसी फिल्में बनाई हैं।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here