'टी हाउस' नाम से अनिल मोरे बारामती के इंदापुर रोड पर एक प्राइवेट अस्पताल के सामने चाय की 'टपरी' चलाते है। - Dainik Bhaskar

पुणेएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
'टी हाउस' नाम से अनिल मोरे बारामती के इंदापुर रोड पर एक प्राइवेट अस्पताल के सामने चाय की 'टपरी' चलाते है। - Dainik Bhaskar

‘टी हाउस’ नाम से अनिल मोरे बारामती के इंदापुर रोड पर एक प्राइवेट अस्पताल के सामने चाय की ‘टपरी’ चलाते है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दाढ़ी की चर्चा इन दिनों खूब हो रही है। उनकी दाढ़ी के स्टाइल को लोग नोबेल पुरस्कार विजेता रवीन्द्र नाथ टैगोर से कम्पेयर कर रहे हैं। हालांकि, कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्हें PM के दाढ़ी का स्टाइल पसंद नहीं आ रहा है।

इनमें से एक हैं पुणे से सटे बारामती का एक चायवाला। उसने PM की दाढ़ी पर आपत्ति जताते हुए उनसे इसे कटवाने की अपील की है। यही नहीं चायवाले ने PM के नाम पर 100 रुपए का मनीआर्डर भी किया है।

लोगों के रोजगार जा रहे हैं और PM दाढ़ी बढ़ा रहे हैं
‘टी हाउस’ नाम से अनिल मोरे बारामती के इंदापुर रोड पर एक प्राइवेट अस्पताल के सामने चाय की ‘टपरी’ चलाते हैं। प्रधानमंत्री मोदी की दाढ़ी पर कटाक्ष करते हुए मोरे ने बुधवार को कहा,’देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। देश में लोग मर रहे हैं और उनके रोजगार जा रहे हैं, लेकिन PM मोदी अपनी दाढ़ी बढ़ा रहे हैं। अगर उन्होंने कुछ बढ़ाना ही है तो वे लोगों के लिए रोजगार बढ़ाएं।’

PMO ऑफिस को अनिल मोरे द्वारा भेजा गया मनीऑर्डर।

PMO ऑफिस को अनिल मोरे द्वारा भेजा गया मनीऑर्डर।

PM को दाढ़ी की जगह टीकाकरण बढ़ाना चाहिए
अनिल मोरे ने आगे कहा,’PM को लोगों के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ टीकाकरण में तेजी लाना चाहिए। अनिल मोरे ने कहा कि हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि लोगों की समस्याओं का समाधान हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पद देश का सबसे ऊंचा पद है। मैं अपनी कमाई में से 100 रुपये प्रधानमंत्री मोदी को दाढ़ी बनाने के लिए भेज रहा हूं।’

अनिल मोरे ने आगे कहा,’नरेंद्र मोदी देश के महान नेता हैं और हम उनका सम्मान करते हैं। हमारा मकसद उन्हें आहत करना नहीं है। लेकिन जिस तरह से कोरोना महामारी से लोगों की परेशानी बढ़ रही है, उससे सेहतमंद लोगों के लिए रोजगार बढ़ाना चाहिए।’

रोना में जान गंवाने वालों को 5 लाख रुपए देने की मांग
अनिल मोरे ने कहा कि इन मांगों की ओर प्रधानमंत्री का ध्यान आकर्षित करने के लिए यह कदम उठाया है। अनिल मोरे ने मनीऑर्डर के साथ पत्र भेजकर कोरोना काल में मरने वालों के परिजनों को 5 लाख रुपये देने की मांग की है। साथ ही अगला लॉकडाउन लागू हुआ तो एक परिवार के लिए 30,000 रुपये का भुगतान करने की अपील भी की है।

चायवाले का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र

आदरणीय प्रधानमंत्री जी,

  • भारत के लगभग सभी जिलों, शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 20 मार्च, 2020 से मई 2021 तक यानी पिछले 15 महीनों में कोविड संक्रामक का प्रकोप एक राष्ट्रीय संकट बन कर सामने आया है। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा उचित योजना की कमी एक बड़ा कारण है। लाॅकडाउन की आड़ में रोजगार जा चुके हैं और लोग भीख मांग कर अपनी रोजी-रोटी चलाने को मजबूर हैं।
  • हमें न राशन मिल रहा है, न दावा और न ही चिकित्सा की सुविधा। ऐसी स्थिति में आप अपनी दाढ़ी बढ़ा कर क्या साबित करना चाहते हैं। अगर आप को कुछ बढ़ाना ही है, तो निःशुल्क चिकित्सा सुविधा बढाएं, टीकाकरण बढाएं, हॉस्पिटल में इलाज के लिए उपकरण और गुणवत्ता बढ़ाए, लोगों तक फ्री में राशन पहुंचाए।
  • 2022 तक सभी का बिजली बिल माफ करें, भारतीयों को लिए राहत योजनाएं बढ़ाए, 30 हजार रुपए प्रति परिवार के हिसाब से आर्थिक सहायता प्रदान करें। कोविड में जान गंवाने वाले सभी परिवारों तक 5 लाख की आर्थिक सहायता प्रदान करें।
  • सभी भारतीयों को टैक्स की वसूली में दो साल की छूट दें। लॉकडाउन के दौरान जिन्हें नुकसान हुआ है, उनके नुकसान की भरपाई कीजिए। उन्हें ब्याज मुक्त दीर्घकालिक लोन मुहैया करवाएं।
  • हमें आत्मनिर्भर बनाने के लिए जिला प्रशासन में संवेदनशीलता की गुणवत्ता बढ़ाएं, छोटे और अन्य उद्यमी, किसानों को सहयोग दें, किसी भी प्रकार की शैक्षिक हानि न होने दें, मुद्रास्फीति को पूरी तरह से नियंत्रित करें।
  • सभी आवश्यक वस्तुओं और ईंधन की कीमतों को कम करें, कालाबाजारी बंद करें, सभी स्तरों पर सरकारी और पुलिस प्रशासन, जिला प्रशासन के रिक्त पदों को जल्द से जल्द भरें।
  • अगर लॉकडाउन बढ़ा तो शहरी और ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों में अराजकता फैल सकती है। आपको किसानों के लिए मदद करनी चाहिए। महंगाई कंट्रोल में लानी चाहिए। सिर पर और दाढ़ी के बाल बढ़ाकर साधु बाबा का वेश लेकर कुछ नही होगा।
  • आप देश के जिम्मेदार प्रथम नागरिक है। आप पर सब की जिम्मेदारी है। राजनीति छोड़कर आप पहले दाढ़ी और कटिंग कीजिए आपका अच्छा दिखना महत्वपूर्ण है। आपको देश हित में कई महत्वपूर्ण निर्णय लेना है।
  • आप चायवाले थे और मैं भी चायवाला हूं, इसीलिए मैं मेरी मेहनत की कमाई से ₹100 आपको दाढ़ी और बाल की कटिंग करने के लिए भेज रहा हूं और मैं एक भारतीय नागरिक होने के नाते आपसे विनती करता हूं कि भारतीय नागरिकों की आवश्यक जरूरतों में सहयोग करेंगे।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here