धूमनगंज थाने में आरोपी हस्सन चकिया के खिलाफ नामजद FIR कराई गई। - Dainik Bhaskar

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Modi Yogi And Amit Shah Objectionable Viral In Prayagraj: Modi Yogi And Amit Cross Marks Posters Uploaded On Social Media In Prayagraj Criminal Lodged In Jail

प्रयागराज3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
धूमनगंज थाने में आरोपी हस्सन चकिया के खिलाफ नामजद FIR कराई गई। - Dainik Bhaskar

धूमनगंज थाने में आरोपी हस्सन चकिया के खिलाफ नामजद FIR कराई गई।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जेल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी मिली है। जेल में बंद एक अपराधी ने तीनों राजनीतिक हस्तियों के लिए क्रॉस निशान वाला पोस्टर सोशल मीडिया पर जारी किया है। इसमें मोदी, शाह और योगी के चेहरे पर क्रॉस का निशान लगाया गया है। इसके साथ तानाशाह हिटलर, गोडसे और जेएनयू में CAA प्रदर्शनकारियों पर फायर रामभगत गोपाल शर्मा की फोटो पर भी क्रॉस का निशान लगाया गया है। पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

जेल में बंद है आरोपी
पुलिस की जांच में सामने आया कि ये फोटो हस्सन चकिया नाम के फेसबुक अकाउंट से अपलोड किया गया है। हस्सन शातिर अपराधी है। उसके ऊपर जान से मारने की धमकी देना और जानलेवा हमले का आरोप है। पुलिस अब जांच कर रही है कि आखिर जेल में बंद होने के बावजूद उसने ये फोटो कब और कैसे ली और कैसे अपलोड की? पुलिस इस तस्वीर को लेकर बेहद गंभीर है। इसे आतंकी कनेक्शन के नजरिए से भी देखा जा रहा है।
जानलेवा हमले के मामले में जेल में है आरोपी हस्सन चकिया
शातिर अपराधी हस्सन कुछ दिनों पहले ही धूमनगंज थाना क्षेत्र के चकिया मोहल्ले में एक घर पर चढ़कर फायरिंग करने लगा। जान से मारने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। इससे पहले उसने मुठभेड़ के दौरान पुलिस पर बम-गोलियों से हमला किया था। जिसमें तीन लोग जख्मी हुए थे। इसके बाद फेसबुक अकाउंट यूजर के नाम से FIR दर्ज की गई।

16 जुलाई को हुआ था पोस्ट
आरोपी हस्सन ने अपने फेसबुक अकाउंट में 16 जुलाई को एक आपत्तिजनक तस्वीर अपलोड की गई थी। जिसमें मोदी, योगी और अमित शाह के साथ ही हिटलर समेत 6 लोगों की तस्वीरों पर क्रॉस का निशान बनाया गया था। पड़ताल में पता चला हस्सन चकिया नाम के फेसबुक अकाउंट से यह तस्वीर फेसबुक पर अपलोड की गई। पुलिस इस तस्वीर को लेकर बेहद गम्भीर है। इसे आतंकी कनेक्शन के नजरिए से भी देखा जा रहा है।

जांच में साइबर सेल की भी मदद लेगी पुलिस
प्रयागराज के एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि FIR धूमनगंज थाने में दर्ज हो गई है। साइबर सेल से मदद ली जाएगी। आरोपी का आपराधिक रिकार्ड खंगाला जा रहा है। फोटो पर क्रास के निशान का मकसद भी पता लगाया जा रहा है। जरूरत पड़ने पर आरोपी से जेल में भी पूछताछ की जाएगी।

खबरें और भी हैं…