नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने यह दावा किया है। - Dainik Bhaskar

नई दिल्ली11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने यह दावा किया है। - Dainik Bhaskar

नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने यह दावा किया है।

भारत ने काेराेना टीके की पहली डाेज लगाने के मामले में अमेरिका काे पीछे छाेड़ दिया है। नीति आयाेग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वीके पॉल ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। पॉल ने कहा- ‘भारत में वैक्सीन की पहली डाेज कम से कम 17.2 करोड़ लाेगाें का लग चुकी है।

हम अपने देश में वैक्सीन की पहली खुराक लगवाने वाले लोगों की संख्या के मामले में अमेरिका से आगे निकल गए हैं। हालांकि टीकाकरण की उच्च दर को प्राप्त करने के लिए देश को अधिक समय की आवश्यकता है।’ हालांकि वेब पाेर्टल ourworldindata.org/covid-vaccinations पर शुक्रवार शाम तक के उपलब्ध आंकड़े कुछ और कह रहे हैं। इनके अनुसार अमेरिका में अब तक टीके का 29.77 कराेड़ खुराकें लोगों को दी जा चुकी हैं। जबकि भारत में कुल 21.83 खुराकें दी गई हैं। इस तरह भारत टीकाकरण के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर है।

जाइडस कैडिला की काेराेना की एंटीबॉडी कॉकटेल दवा काे परीक्षण की मंजूरी मिली

भारतीय कंपनी जाइडस कैडिला की एंटीबॉडी कॉकटेल दवा को परीक्षण की अनुमति मिल गई है। कंपनी ने हाल ही में भारत के औषधि नियंत्रक से इसकी मंजूरी मांगी थी। जाइडस भारत की अकेली कंपनी है, जिसने कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मोनोक्लोनल एंटीबॉडी आधारित कॉकटेल तैयार किया है। ये हल्के लक्षणों वाले मरीजों के लिए है।

अमेरिका ने वैक्सीन निर्यात से प्रतिबंध हटाया

इधर, अमेरिका ने गुरुवार काे एस्ट्राजैनेका, नाेवावैक्स और सनाेफी पर लगे प्रतिबंधाें काे हटा लिया है। इससे भारत में कोरोना टीकों के लिए जरूरी कच्चा माल मिल सकेगा। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन और भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर काे इसके लिए धन्यवाद दिया है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here