आजम खान को पाकिस्तान की टी20 टीम में चुना गया है जो मोईन खान के बेटे हैं. (Pic- Twitter/Azam Khan)

आजम खान को पाकिस्तान की टी20 टीम में चुना गया है जो मोईन खान के बेटे हैं. (Pic- Twitter/Azam Khan)

आजम खान को पाकिस्तान की टी20 टीम में चुना गया है जो मोईन खान के बेटे हैं. (Pic- Twitter/Azam Khan)

आजम खान (Azam Khan) पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोइन खान के बेटे हैं, जिसके चलते उनके चयन पर सवाल उठाए जा रहे हैं. आजम ने अपने आलोचकों को जवाब दिया और कहा कि वह सोशल मीडिया ट्रोलिंग पर कोई ध्यान नहीं देते हैं और जितना हो सके, इसे अनदेखा करने की कोशिश करते हैं.

नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के आगामी दौरों के लिए सभी फॉर्मेट के लिए टीम की घोषणा की. टी20 टीम में चुने गए युवा बल्लेबाज आजम खान (Azam Khan) ने सभी का ध्यान खींचा, जिन्हें पहली बार राष्ट्रीय टीम में जगह मिली है. आजम को शामिल करने से क्रिकेट फैंस के बीच थोड़ा विवाद भी छिड़ गया क्योंकि कुछ का मानना है कि आजम का चयन अनुचित और पक्षपातपूर्ण था. आजम पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोइन खान के बेटे हैं.

22 वर्षीय इस खिलाड़ी ने आखिरकार सभी आलोचकों को जवाब दिया. उन्होंने कहा कि वह सोशल मीडिया ट्रोलिंग पर कोई ध्यान नहीं देते हैं और जितना हो सके, इसे अनदेखा करने की कोशिश करते हैं. आजम ने जोर देकर कहा कि ईश्वर ने उन्हें प्रतिभा का आशीर्वाद दिया है और वह अपने कौशल का पूरा इस्तेमाल करना चाहते हैं.

आजम ने क्रिकविक के यूट्यूब चैनल से बातचीत में कहा, ‘मैं सोशल मीडिया की आलोचना को ज्यादा महत्व नहीं देता. मुझे पता है कि मेरे बारे में क्या कहा जा रहा है लेकिन ज्यादातर इसे नजरअंदाज करने की कोशिश करता हूं. मुझे पता है कि मुझे अपने अंतिम लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए क्या करने की जरूरत है. इसके लिए मुझे कड़ी मेहनत करनी होगी. जहां तक ​​आलोचकों का सवाल है, मैं उन्हें बल्ले से जवाब देता हूं.’

इसे भी देखें, विराट कोहली हैं इस पाकिस्तानी क्रिकेटर की पत्नी के पसंदीदा बल्लेबाज, भारत से है खास रिश्ताआजम ने जोर देकर कहा कि ईश्वर ने उन्हें प्रतिभा का आशीर्वाद दिया है और वह अपने कौशल का पूरा इस्तेमाल करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘जब ट्रोल करने वाले लोग मुझे प्रदर्शन करते देखेंगे तो उनके सभी जवाब अपने आप मिल जाएंगे.’ आजम का मानना ​​​​है कि वह मानसिक रूप से मजबूत हैं और इस तरह उन सभी चीजों को नजरअंदाज करने की क्षमता रखते हैं जो उन्हें नीचे ला सकती हैं या उसका मनोबल गिरा सकती हैं.’

उन्होंने कहा, ‘मैं किसी से कुछ नहीं कहना चाहता और मैंने कभी इस तरह की प्रतिक्रिया नहीं दी. अल्लाह ने मुझे प्रतिभा दी है और मैं इसका इस्तेमाल बल्ले से मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए करना चाहता हूं. तब लोगों को उनके जवाब अपने आप मिल जाएंगे. मीडिया आलोचकों जैसी बेवजह की बातों में आने की जरूरत नहीं है. मानसिक दृढ़ता में ऐसी चीजों को अनदेखा करना भी शामिल है. मैं वही करता हूं और बस अपना क्रिकेट खेलता हूं.’





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here