एरिक हॉलिस ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 2300 से ज्यादा विकेट लिए हैं. (फाइल फोटो)

एरिक हॉलिस ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 2300 से ज्यादा विकेट लिए हैं. (फाइल फोटो)

एरिक हॉलिस ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 2300 से ज्यादा विकेट लिए हैं. (फाइल फोटो)

अगर डॉन ब्रैडमैन अपनी आखिरी टेस्ट पारी में चार रन बना लेते तो न सिर्फ टेस्ट में 7 हजार रन पूरे कर लेते, बल्कि हर पारी में 100 रन का बेमिसाल औसत भी हासिल कर लेते. लेकिन ब्रैडमैन का सपना एरिक हॉलिस ने तोड़ दिया.

नई दिल्ली. इंग्लैंड के पूर्व लेग स्पिनर एरिक हॉलिस की आज 109वीं जयंती है. महानतम बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन को आखिरी पारी में जीरो पर बोल्ड कर एरिक हॉलिस क्रिकेट इतिहास में अमर हो गए. एरिक ने भले ही सिर्फ 13 टेस्ट मैच खेला हो लेकिन 7वें टेस्ट में उनके कारनामे से ब्रैडमैन 100 की जादुई औसत को नहीं छू पाए थे. ब्रैडमैन को अपनी आखिरी पारी में 100 की औसत को पाने के लिए सिर्फ चार रनों की जरूरत थी लेकिन वह शून्य पर आउट हो गए थे.

एशेज सीरीज 1948 से पूरी दुनिया में छाए

हॉलिस ने अपने करियर में सिर्फ एक टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला. 1948 के एशेज सीरीज के आखिरी मैच में उन्हें ओवल मैदान पर उतरने का मौका मिला. संयोग से यह डॉन ब्रैडमैन का भी आखिरी टेस्ट मैच था. पहली पारी में इंग्लैंड की टीम 54 रन पर सिमट गई थी. ऑस्ट्रेलिया के लिए आर लिंडवॉल ने 6 विकेट झटके. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने आर्थर मौरिस के शानदार 196 रन की मदद से 389 रन का विशाल स्कोर बनाया. ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज सिड बर्न्स (61 रन) के आउट होने के बाद ब्रैडमैन तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे. हॉलिस ने ब्रैडमैन को दूसरी गेंद पर बोल्ड कर दिया.

तीसरी पारी में इंग्लैंड ने थोड़ा संघर्ष किया लेकिन लेन हटन की फिफ्टी के बावजूद कुल 188 रन पर सिमट गया. इस तरह ऑस्ट्रेलिया यह मैच एक पारी और 149 रन से जीत गया और ब्रैडमैन को दूसरी पारी में बल्लेबाजी का मौका ही नहीं मिला. इस तरह से 52 टेस्ट मैचों के टेस्ट करियर में ब्रैडमैन का एवरेज 99.94 ही रहा. और वह चार रन से 7000 रन पूरे करने से भी चूक गए. हॉलिस ने इस मैच में 131 रन देकर पांच ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को आउट किया था.फर्स्ट क्लास क्रिकेट में झटके 2323 विकेट

1912 में इंग्लैंड में जन्मे एरिक हॉलिस ने 25 साल तक क्रिकेट खेला. उनका फर्स्ट क्लास रिकॉर्ड बेहद जबरदस्त है. उन्होंने 515 फर्स्ट क्लास मैचों में करीब 21 की औसत से 2323 विकेट लिए हैं. 182 बार इस गेंदबाज ने पांच या उससे ज्यादा विकेट चटकाया है जबकि मैच में दस विकेट लेने का कारनामा उन्होंने 40 बार किया है. हॉलिस एक पारी में 10 विकेट भी चटका चुके हैं. वॉरविकशर की तरफ से खेलते हुए हॉलिस ने काउंटी क्रिकेट में 49 रन देकर 10 विकेट लेने का कारनामा किया था. हॉलिस ने 19 में से 14 काउंटी सीजन में 100 से ज्यादा विकेट लिये, जो कि एक रिकॉर्ड है.

यह भी पढ़ें:

हनुमा विहारी ने टीम इंडिया को किया अलर्ट, कहा-धूप नहीं निकली तो दिनभर स्विंग होगी गेंद

TOP 10 Sports News : पैट कमिंस IPL-2021 के बाकी मैचों में नहीं खेलेंगे, मिल्खा सिंह की पत्नी ICU में भर्ती

15 साल के इंटरनेशनल करियर में खेला सिर्फ 13 टेस्ट

एरिक हॉलिस ने अपना टेस्ट डेब्यू वेस्टइंडीज के खिलाफ साल 1935 में किया था. लेकिन विश्व युद्ध के चलते उन्हें कम इंटरनेशल मैच खेलने का मौका मिला. हॉलिस ने 13 टेस्ट में 44 विकेट लिए हैं. उन्होंने पांच बार पारी में 5 या उससे ज्यादा विकेट लिया. इस गेंदबाज ने अपना आखिरी टेस्ट साल 1950 में वेस्टइंडीज के खिलाफ ही खेला था.





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here