WTC Final: न्यूजीलैंड को जडेजा और अश्विन से ज्यादा डर (फोटो-एएफपी)

रविंद्र जडेजा और 
आर अश्विन असरदार साबित हो सकते हैं. (AFP)

रविंद्र जडेजा और
आर अश्विन असरदार साबित हो सकते हैं. (AFP)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल को लेकर टीम इंडिया और न्यूजीलैंड ने कमर कस ली है. फाइनल मैच 18 से 22 जून तक साउथम्पटन में खेला जाएगा. पहली बार टूर्नामेंट का आयोजन हो रहा है.

नई दिल्ली. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) का फाइनल भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाना है. 18 से 22 जून तक साउथम्प्टन में होने वाले मुकाबले से पहले न्यूजीलैंड के पूर्व दिग्गज कोच माइक हेसन ने टीम इंडिया को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि आर अश्विन और रवींद्र जडेजा के रहने से टीम इंडिया को गेंदबाजी में अच्छा बैलेंस मिलता है. उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को एक्स फैक्टर बताया.

माइन हेसन ने कहा, ‘ड्यूक बॉल स्पिन गेंदबाजाें काे हमेशा पसंद आती है. क्योंकि सीम ऊपर होती है. टीम इंडिया में ऑफ स्पिनर ऑफ अश्विन और रवींद्र जडेजा के होने से बैलेंस अच्छा रहेगा.’ उन्होंने कहा कि इससे टीम को पांच गेंदबाज मिल जाते हैं. इतना ही नहीं बाएं और दाएं हाथ के बल्लेबाज के खिलाफ भी फायदा मिलता है. न्यूजीलैंड में पांच बाएं जबकि छह दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं. टीम तीन तेज गेंदबाजों को ही मौका देगी.

ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया

माइक हेसन ने कहा कि ऋषभ पंत एक्स फैक्टर होंगे. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया था. उन्होंने कहा कि अब पंत में इंटरनेशनल लेवल को लेकर अधिक आत्मविश्वास आ गया है. इस कारण वह जैसा खेलना चाहता था, उस तरह खेल रहा है. 48 साल के माइक हेसन 2012 से 2018 तक न्यूजीलैंड के काेच थे. उन्होंने कहा कि वह पहले खूब मेहनत करता है. इस कारण अब लापरवाही नहीं दिखती है. उसे खेलते देखना मुझे भी पंसद है. हेसन आईपीएल टीम आरसीबी के कोच हैं.न्यूजीलैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकता है

उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड की टीम चार तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती है. पांचवें गेंदबाज के तौर पर कोलिन ग्रैंडहोम या बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज मिचेल सेंटनर को शामिल किया जा सकता है. इंग्लैंड के खिलाफ डेब्यू टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले डेवॉन कॉनवे को लेकर उन्हाेंने कहा कि उन्हें उसके प्रदर्शन को लेकर काेई आश्चर्य नहीं हुआ. वे लिमिटेड ओवर में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा था. उन्हाेंने भी टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री के जैसे ही बात कही. उनका मानना है कि इतने बड़े इवेंट के दौरान एक की जगह तीन फाइनल होने थे.

अश्विन और जडेजा ले चुके हैं 100 से अधिक विकेट ले चुके

आर अश्विन और रवींद्र जडेजा SENA देश (दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया) में मिलकर 100 से अधिक विकेट ले चुके हैं. आर अश्विन ने 20 टेस्ट में 63 जबकि रवींद्र जडेजा 13 टेस्ट में 41 विकेट ले चुके हैं. इन दोनों खिलाड़ियों की वजह से बल्लेबाजी में भी गहराई आ जाती है. ऑस्ट्रेलिया में अश्विन ने एक मैच में शानदार बल्लेबाजी करके मैच बचाया था.





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here