दिव्या खोसला कुमार ने अपने पोस्ट में कानून का उल्लंघन किया है.

दिव्या खोसला कुमार ने अपने पोस्ट में कानून का उल्लंघन किया है.

दिव्या खोसला कुमार ने अपने पोस्ट में कानून का उल्लंघन किया है.

दिव्या खोसला कुमार (Divya Khosla Kumar) ने पर्ल वी पुरी के समर्थन में एक ऐसा पोस्ट कर दिया है कि ट्विटर पर दिव्या की गिरफ्तारी की मांग उठने लगी है.

नई दिल्ली. टीवी शो ‘नागिन 3 (Naagin 3)’ फेम पर्ल वी पुरी (Pearl V Puri) को मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने नाबालिग से रेप के आरोप में पॉक्सो (POCSO) एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है. मुंबई की वसई कोर्ट ने पर्ल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. पर्ल की गिरफ्तारी के बाद एकता कपूर सहित टीवी के कई सितारे उनके सपोर्ट में उतरे हैं, इसी बीच सोशल मीडिया पर एक्ट्रेस दिव्या खोसला कुमार (Divya Khosla Kumar) ने पर्ल वी पुरी के समर्थन में एक ऐसा पोस्ट कर दिया है कि ट्विटर पर दिव्या की गिरफ्तारी की मांग उठने लगी है और लोगों का कहना है कि दिव्या पर भी केस होना चाहिए.

दरअसल, अपने इंस्टाग्राम पर दिव्या ने एक पोस्ट किया है, जिसमें उन्होंने कानून का उल्लंघन करते हुए नाबालिग के माता, पिता और नाबालिग की ब्लर तस्वीर शेयर करते हुए, उन सबके नाम का खुलासा कर दिया है, जिसे कानून का उल्लंघन माना जा रहा है.

PrintShot Twitter

PrintShot Twitter

दिव्या ने अपने पोस्ट में लिखा, “मैं आपको उनसे मिलवाती हूं… यह आदमी XXXX है और यह महिला XXX एक अभिनेत्री है. XXXX वह व्यक्ति है जिसने पर्ल वी पुरी पर आरोप लगाया है कि उसने 2 साल पहले बालाजी टेलीफिल्म्स द्वारा निर्मित ‘बेपनाह प्यार’ धारावाहिक के सेट पर उसकी 5 वर्षीय बेटी से छेड़छाड़ की थी. पिता और मां अपनी बेटी के लिए कस्टडी की लड़ाई से गुजर रहे हैं और पिछले 2 सालों से बेटी अपने पिता के साथ है, और उसने अपनी पत्नी पर आरोप लगाया है कि चूंकि वह एक अभिनेत्री है और वह बेटी को अपने सेट पर ले गई, जहां मुख्य अभिनेता ने उसके साथ छेड़छाड़ की, बेटी अपनी मां के साथ असुरक्षित है… मुझे लगता है कि इस साजिश के लिए उस शख्स को सर्वश्रेष्ठ पटकथा का फिल्मफेयर पुरस्कार दिया जाना चाहिए.”

PrintShot Instagram @divyakhoslakumar

PrintShot Instagram @divyakhoslakumar

दिव्या ने आगे लिखा, “अब पुलिस ने पर्ल को गिरफ्तार कर लिया है… मैं जानना चाहता हूं कि पुलिस ने 2019 में उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया, जब यह मामला दर्ज किया गया था… कारण यह है कि दर्ज की गई प्राथमिकी में यह उल्लेख किया गया था कि बच्ची के साथ छेड़छाड़ तब की गई थी, जब वह अपनी मां के साथ थी. पर्ल का नाम एफआईआर में कहीं नहीं था. (मैंने खुद एफआईआर पढ़ी है, जब पर्ल की मां ने कल मुझे मदद के लिए फोन किया था). नाबालिग की मां ने एकता कपूर के साथ अपने कॉल में स्पष्ट रूप से कहा कि उसका पति एक है मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने वाला मानसिक व्यक्ति है, उसके पास इसके लिए कई सबूत हैं, वह यह कहकर मामले को सुलझाती है कि पर्ल निर्दोष है और सेट पर ऐसा कुछ नहीं हुआ था.’

PrintShot Instagram @divyakhoslakumar

PrintShot Instagram @divyakhoslakumar

उन्होंने आगे लिखा, “सेट पर उसके साथ गई बच्ची की नौकरानी ने भी पुलिस से यही कहा है. बच्ची खुश थी और खेल रही थी… शूटिंग के बाद मां उसे अपने कुछ दोस्तों के घर भी ले गई, वहां भी वह खुश थी. कृपया ध्यान दें बच्ची 5 साल की है … 10 दिन बाद पिता ने स्कूल के बाद बच्चे का अपहरण कर लिया और शारीरिक शोषण का मामला दर्ज किया. फिर भी, न तो बच्चे और न ही पिता ने पर्ल के नाम का उल्लेख किया… 2 साल बाद आज 2021 में जब बच्ची अब 7 साल की है, क्या वह आरोपी को पहचानती है. एक पल के लिए अगर हम मान लें कि ऐसा कुछ बच्ची के साथ हुआ है… तो मैं जानना चाहता हूं कि इतनी कम उम्र में क्या बच्चा उस व्यक्ति का नाम याद रखेगी और उसे पहचान लेगी. इस छोटी लड़की के लिए यह दुख की बात है कि जिस तरह के माता-पिता उसे मिले हैं, मैं केवल उसके लिए प्यार भेजना चाहता हूं. नाबालिग की मां ने एकता कपूर के साथ अपने फोन कॉल में आगे कहा कि बच्चे को पिता ने पढ़ाया है. बेहद परेशान करने वाली बात यह है कि मी टू जैसे आंदोलन का इतनी बुरी तरह से दुरुपयोग किया जा रहा है… बेचारी बच्ची जिसके साथ उसके ही पिता मानसिक रूप से खिलवाड़ कर रहे हैं. पर्ल के लिए यह एक दुखद स्थिति है, करियर की ठीक से शुरुआत करने से पहले ही उनकी प्रतिष्ठा को बड़ा झटका लगा है. क्या इंडस्ट्री में कोई उन्हें काम देगा?”





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here