अश्विन को 'ऑल टाइम ग्रेट' ना मानने के बयान के बाद अब संजय मांजरेकर ने किया यह ट्वीट

नई दिल्ली. संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के बारे में अपनी हालिया टिप्पणी के जरिये एक नई बहस छेड़ दी है. इस बहस के बाद टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर और क्रिकेट पंडित मांजरेकर ने अपने इस बयान का बचाव किया है. उन्होंने अपने बयान का बचाव करते हुए एक ट्वीट किया है. संजय मांजरेकर ने कहा था कि उन्हें अश्विन को क्रिकेट में सर्वकालिक महान क्रिकेटरों (All Time Great) में से एक बताए जाने पर समस्या है. मांजरेकर ने आर अश्विन के विदेशी मैदानों के रिकॉर्ड पर सवाल उठाया और कहा कि भारतीय मैदानों पर रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) और हाल में अक्षर पटेल (Axar Patel) जैसे स्पिनरों ने भी शानदार प्रदर्शन किए हैं. मांजरेकर के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई, जिसके बाद उन्होंने ट्वीट कर अपनी सफाई दी.

संजय मांजरेकर को अपने क्रिकेट विश्लेषण और भारतीय क्रिकेटरों के बारे में टिप्पणियों के बारे में जाना जाता है. कई बार भारतीय खिलाड़ियों पर किए गए उनके बयान उनपर काफी भारी भी पड़ते हैं. अब मांजरेकर ने अश्विन के बारे में अपनी टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया पर बहस छिड़ने के बाद ट्विटर का सहारा लिया है. मांजरेकर ने कहा कि डॉन ब्रैडमैन, गारफील्ड सोबर्स, सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर और टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली जैसे दिग्गज खिलाड़ी उनकी किताब में ‘सर्वकालिक महान’ हैं.

सौरव गांगुली ने बुरी तरह ट्रोल होने के बाद उठाया कदम, सोशल मीडिया से हटाया पोस्‍ट

संजय मांजरेकर ने ट्वीट करते हुए लिखा, ”ऑल-टाइम ग्रेट’ एक क्रिकेटर को दी जाने वाली सर्वोच्च प्रशंसा है. डॉन ब्रैडमैन, सोबर्स, गावस्कर, तेंदुलकर, विराट आदि जैसे क्रिकेटर मेरी किताब में सर्वकालिक महान हैं. उचित सम्मान के साथ, अश्विन अभी तक एक सर्वकालिक महान खिलाड़ी के रूप में नहीं हैं. #ऑलटाइमग्रेटएक्सप्लेन्ड. मांजरेकर के इस ट्वीट को फैन्स की मिली-जुली प्रतिक्रिया भी मिली है.

रविचंद्र अश्विन को भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे सफल स्पिनरों में से एक के रूप में माना जाता है. अश्विन ने विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम को आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. अश्विन आईसीसी टेस्ट गेंदबाजी रैंकिंग में मौजूदा नंबर 2 गेंदबाज हैं, लेकिन मांजरेकर ने अनुभवी स्पिनर को सर्वकालिक महान घोषित करने में अपनी आपत्ति व्यक्त की है.

संजय मांजरेकर ने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर कहा, ”जब लोग उनके बारे में खेल के सर्वकालिक महान खिलाड़ियों में से एक के रूप में बात करना शुरू करते हैं तो मुझे कुछ समस्याएं होती हैं. अश्विन के साथ यह समस्या है कि उन्होंने SENA (दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया) देशों में एक बार भी पांच विकेट नहीं चटकाया है. जब आप भारतीय पिचों पर उनके दमदार प्रदर्शन को देखेते तो पिछले चार वर्षों में जडेजा ने लगभग उनके बराबर विकेट लिए हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पिछली सीरीज में अक्षर पटेल ने उनसे ज्यादा विकेट लिए हैं.”

WTC 2021 Final: पहला दिन धुलने पर फॉलोऑन नियम पर आईसीसी का बड़ा ऐलान

अश्विन ने एक पारी में 30 बार पांच विकेट और एक टेस्ट मैच में सात बार 10 विकेट लिए हैं. अनुभवी स्पिनर सबसे लंबे प्रारूप में भारत के लिए चौथे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं. अश्विन ने टीम इंडिया के लिए 78 टेस्ट मैचों में 409 विकेट हासिल किए हैं.

संजय मांजरेकर ने कहा, ”जडेजा ने विकेट लेने की क्षमता के साथ उनकी बराबरी की है. फिर, दिलचस्प बात यह है कि इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी सीरीज में अक्षर पटेल ने समान पिचों पर अश्विन से ज्यादा विकेट लिए. तो अश्विन को एक वास्तविक सर्वकालिक महान के रूप में स्वीकार करने में मेरी समस्या है.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here